मैं आज जो भी हूं केवल कबड्डी की वज़ह से - महेंद्र गणेश राजपूत | Mahendra Gamesh Rajput - Pro Kanaddi And Maharastra Kabaddi Star

Responsive Ad Here

महेंद्र गणेश राजपूत कबड्डी में एक जाना माना  नाम हैं। कबड्डी 360 को दिए गए इंटरव्यूज में राजपूत ने कहा की मैं आज जो भी हुं केवल कबड्डी की वजह से। जो भी जीवन में मिला सिर्फ कबड्डी ने मुझे दिया।

महेंद्र राजपूत ने अपने घर का नाम भी कबड्डी रखा हैं। इस बारे में उनसे पूछा गया तो उन्होंने बताया की "मैंने मेरे घर का नाम कबड्डी रखा है और मेरे गाड़ी पर भी कबड्डी लिखा है क्योंकि आज मैं जिस मुकाम पर हूं और जो भी पाया है सब मुझे कबड्डी खेलने की वजह से मिला है।"

राजपूत पहले क्रिकेट खेलते थे लेकिन कुछ वजह से उनका क्रिकेट में सिलेक्शन नहीं हो पाया तो उन्होंने खेलना छोड़ दिया। उनके गांव के पास ही कबड्डी क्लब था तो दोस्तों के कहने पर राजपूत कबड्डी खेलने जाने लगे। पहले तो नौकरी में अगर स्पोर्ट्स का सर्टिफिकेट होने से छूट मिलती थी इसलिए उन्होंने कबड्डी खेलना सुरु किया था। लेकिन फिर वे कबड्डी खेलते रहे और आज कबड्डी जगत में वे एक बेहतरीन रेडर है।

प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) में उन्होंने बंगाल वारियर्स के लिए सुरु के चार संस्करण खेले उसके बाद पांचवा और छटा संस्करण उन्होंने गुजरात फॉर्चून जाइंट्स के लिए खेला। प्रो कबड्डी में उन्हें गेम चेंजर के रूप में देखा जाता है। छटे संस्करण में चोटिल होने के कारन वे प्रो कबड्डी का सातवा संस्करण नहीं खेल पाए थे।

महेंद्र राजपूत महाराष्ट्र के धुळे जिल्हे के रहने वाले है। उन्होंने धुळे के कबड्डी टीम की कप्तानी बहुत बार की है। 2015-16 के नेशनल कबड्डी चैंपियनशिप में राजपूत ने महाराष्ट्र टीम की भी कप्तानी की है। अभी वे महाराष्ट्र पुलिस में कार्यरत हैं।

Full Interview

Stay Connected of Viral Vo Sports For Kabaddi and Pro Kabaddi League 2020 News And Updates

0 Comments